Move Down
   
 
AML स्कूल की स्थापना का मकसद क्षेत्र में शिक्षा के विकास के साथ साथ बच्चों में ज्ञान का विकास कराना है ताकि बच्चे ज्यादा से ज्यादा आधुनिक तकनीकी के बारे में जान सके और आगे चल कर देश की उन्नति में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सकें |

यह सिद्ध हो गया है कि मनुष्य का मस्तिष्क दायें और बाएँ दो हिस्सों में बटा हुआ है दाया हिस्सा श्रद्धा और कलात्मक आदि वस्तुओं को संचालित करता है | इसे हम अंतरात्मा की आवाज कह सकते है | न्यूटन जैसे महान वैज्ञानिक का "गुरुत्वाकर्षण का सिद्धांत" भी इसी का एक उदाहरण है | बाएं मस्तिष्क को तर्क मस्तिष्क कहा गया है, सारा अर्थमेटिक एवं साइंस इसी का एक रूप है, इसलिए जीवन में दोनों भागों की आवश्यकता होती है |

यही हमारा प्रयास होगा की हम विषयों को दायें भाग और बाएं भाग के रूप में देखे और जहाँ जो बाएं भाग के विषय लगते है उनको अधिक से अधिक अनुशासन में पढाये जाएँ परन्तु जो दायें भाग के विषय के गुण है उनमें विद्यार्थी को अधिक से अधिक स्वतंत्रता दी जाये | हम लोगों का प्रयास हो की करीब आधा समय बाएं भाग के गुण के विषय को दे और आधा समय दायें भाग के विषय को दे |
 
   
 
     
Copyright © Dhampur 2010  | Privacy Policy | Disclaimer | Site Map